Saturday, 20 September 2014

साथ दुआ लेते जाना




अब जा ही रहे हो तो ..
साथ दुआ लेते जाना .

रास्ते आसान होंगे,
ये ज़रूरी तो नहीं .
हालात मेहरबां होंगे,
ये भी ज़रूरी नहीं .
अब चल ही पड़े हो तो ..
हौसला बनाये रखना .

ख़ुशी के मौके होंगे,
पर हरदम तो नहीं .
लोग हमक़दम होंगे,
पर हमेशा तो नहीं .
अब चल ही पड़े हो तो ..
माहौल बनाये रखना .

अब जा ही रहे हो तो ..
उम्मीदों की सौगात लेते जाना .
परिंदों की उड़ान लेते जाना .
ज़िन्दादिली का पैगाम लेते जाना .
यादों का सामान लेते जाना .

अब जा ही रहे हो तो ..
साथ दुआ लेते जाना .   



1 comment:

नमस्ते