Saturday, 29 December 2012




दिन आज का 
तुमको
क्या क्या दे गया ..
खोल कर बैठो 
दिन की पोटली को 
और गुनो .



No comments:

नमस्ते